Secret of success in life-सफलता के लिए क्या जरूरी है

Secret of success in life
Secret of success in life

Secret of success in life-सफलता के लिए क्या जरूरी है?

दोस्तों ! जीवन में सफलता के लिए क्या जरूरी है (Secret of success in life) ? सफलता का क्या मतलब है (What is success) ? हमें सफलता तभी मिलेगी, जब हमें सफलता का मतलब (Meaning of success) पता होगा. साथ ही ये भी जानना जरूरी है कि किन चीजों के होने पर सफलता (Success) मिल जाती है ? सफलता पाना हर कोई चाहता है, क्योकि कोई भी सफल इंसान हर जगह सम्मान पाता है.

सफलता और असफलता के बीच बस थोड़ा सा फासला है. जो इस फासले को तय कर लेता है, वो सफल और कामयाब हो जाता है. सफल होने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना पड़ता है, तभी सफलता हमारे कदम चूमती है. तो चलिये, आज की इस पोस्ट में में आपको बताने वाली हूँ  कि सफलता का क्या मतलब है (What is success) ? जीवन में सफलता के लिए क्या जरूरी है (Secret of success in life) ? 

सफलता क्या है ? (What is success)

दोस्तों ! हर किसी के लिए सफलता के लिए अलग-अलग मायने (Meaning) या मतलब है. किसी को बहुत सारा धन कमाना सफलता लगता है. तो किसी को अच्छी नॉकरी मिल जाना उसके लिए बड़ी कामयाबी होती है. विदेशी वीजा का मिल जाना किसी के लिए सफलता हो सकता है, तो हो सकता है कि देश में रह कर देश की सेवा करने को ही कोई अपनी कामयाबी मानता हो.

तो कहने का मतलब ये है कि हर किसी के लिए सफलता का अलग-अलग मतलब है. जरूरी नहीं है कि एक आदमी की कोई सफलता दूसरे आदमी के लिए भी उतना ही मायने रखती हो. अब आपको ये तय करना है कि आप अपने को कामयाब इंसान कब और कैसे मानेंगे?

पर इतना जरूर है कि सफलता या कामयाबी चाहे जो भी, उसको प्राप्त करने के लिए कुछ बातें सबमें समान (Common)  हैं. हर किसी को सफलता पाने के लिए मेहनत करनी पड़ती है, तब कहीं जाकर कामयाबी हमारे चरण चूमती है.

तो चलिये हमने ये तो जान लिया कि सफलता या कामयाबी क्या है? अब हम ये भी जान लेते हैं कि सफलता कैसे मिलती है ? वो कौनसे तरीके हैं (way to success ), जिन्हें अपनाकर कोई भी सफल हो सकता है ?

ये भी पढ़ें : Motivational Quotes Hindi Best Status-सुविचार स्टेटस और सुविचार हिंदी मे

जीवन में सफलता के लिए क्या जरूरी है-Secret of success in life ?

दोस्तों ! सफल (Success) होने के लिए हमें कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ही आवश्यक है. जो कोई भी सफलता के शिखर पर पहुँचना चाहता है, तो उसको नीचे लिखी गई बातों को अपनाना बहुत ही जरूरी है. अगर आप भी कामयाबी पाना चाहते हैं, तो इन बातों को हमेशा याद रखें.

सफलता के लिए पहला गुण – कड़ी मेहनत (Hard worship)

आज तक जितने भी कामयाब इंसान हुए हैं, उन्होंने अपने लक्ष्य (goal) को पाने के लिये कठोर परिश्रम किया है. सफलता का फूल कड़ी और लगातार मेहनत के पसीने से ही खिलता है. आप किसी भी सफल व्यक्ति (successful people) से पूछिये कि उसने कितना परिश्रम किया, तो आपको पता चलेगा कि कइयों ने तो अपना सम्पूर्ण जीवन ही अपनी कामयाबी के लिए कुर्बान कर दिया है.

सिविल सेवा परीक्षा (Civil service exam) में सफल विद्यार्थी से आप पूछेंगे तो वो आपको बताएंगे कि उन्होंने अपनी नींद, सुख-चैन सब कुछ त्यागकर केवल और केवल कठोर परिश्रम किया. उन्होंने दिन-रात एक करते हुए अपने लक्ष्य को पाने के लिए कड़ी मेहनत की. तब कहीं अंत में जाकर उन्हें सफलता का स्वाद चखने को मिला है.

किसी रोज़ खेतों में जाकर किसी किसान को पसीने से तर-बतर होते हुए देखिये, आपको ज्ञान हो जाएगा कि हम जिस अन्न की रोटी खा रहे हैं, उसे वो किसान कितने कठोर परिश्रम के पश्चात इस अनाज को सफलतापूर्वक अपने अंजाम तक पहुंचा पाया है. तो अगर आप भी कामयाब होना चाहते हैं तो आपको भी कड़ी मेहनत से गुजरना ही होगा.

कामयाबी के लिए दूसरा गुण – धैर्य (Patience)

सफल या कामयाब होने के लिए धैर्य बहुत ही आवश्यक है. अगर हममें धैर्य का गुण नहीं है, तो शायद हमें कामयाबी देर से मिले या फिर हो सकता है कि ना भी मिले. किसी कवि ने कहा भी है ” धीरे-धीरे रे मना, धीरे-धीरे सब होय. माली सींचे सौ घड़ा, ऋतु आये फल होये”.अर्थात  माली बाग में पौधों को रोज़ कितना भी पानी दे ले, लेकिन उनमें फल तो ऋतु या समय आने पर ही लगेंगे. इसलिए हमें भी अपने लक्ष्य को पाने के लिए धैर्य के साथ निरंतर मेहनत करते जाना है. समय आने पर हमें सफलता जरूर से मिल जाएगी.

सफलता का तीसरा गुण – गलतियों से सबक (Take a lesson from mistakes)

हम जब भी कोई कार्य करते हैं, तो उसमें गलती होनी स्वाभाविक है. गलती इंसान से ही होती है. लेकिन इसका ये मतलब बिल्कुल नहीं है कि हम गलती पर गलती करते चले जाएं. बल्कि हमें इन गलतियों से सीख लेते हुए अपने लक्ष्य की तरफ लगातार अग्रसर (Proceeding) रहना है. जो गलती पिछली बार हो गई,उसे दोहराने से बचना है. अगर आप समय रहते अपनी गलतियों को सुधार लेते हैं तो आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता.

इसे भी पढ़ें : Time management tips-टाइम मैनेजमेंट कैसे करें-

कामयाबी का चौथा मंत्र – असफलता एक चुनौती (Take failure as a challenge)

“असफलता एक चुनौती है, तुम इसको स्वीकार करो. सोचो क्या कमी रह गई, देखो और सुधार करो”. सफलता (Success) की पहली सीढ़ी ही असफलता (Failure) है. किसी शायर ने भी कहा है ” गिरते हैं शह सवार ही मैदान-ऐ-जंग में, वो तिफ़्ल क्या गिरेंगे जो घुटनो के बल चले”. इसलिए आपको सफलता के रास्ते में असफलता रूपी स्पीड ब्रेकर जरूर मिलेंगे, लेकिन इनसे आपको अपनी रफ़्तार (Speed) कम नहीं होने देनी है. आपको नाकामयाबी (Failure) को एक चुनौती (Challenge) के रूप में स्वीकार करना है और एक दिन जरूर सफल (Success) होकर दिखाना है.

सक्सेसफुल होने की पाँचवीं टिप्स – सकारात्मक सोच (Positive thinking)

दोस्तों ! अगर आप अपने जीवन में सक्सेस पाना चाहते हैं तो आपको पॉजिटिव थिंकिंग अपनानी होगी. आपको अपनी नेगेटिव थिंकिंग को पूरी तरह से अपने माइंड (Mind) से हटाना होगा. आपको हर पल बस यही सोचना है कि आप हर हाल में जरूर सफल होंगे. दुनिया की कोई भी ताकत आपको सफल होने से नहीं रोक सकती.

अगर आपने दिल और दिमाग में सकारात्मक सोच (Positive thinking) का दीपक (Light) जला लिया तो आपके कामयाबी के रास्ते में दूर-दूर तक उजाला ही उजाला होगा. इसलिए आज से और अभी से अपनी नकारात्मक सोच (Negative thinking) को त्यागकर सकारात्मक सोच को ही अपने मन-मस्तिष्क में रखना है.

कामयाबी का छठा मंत्र – समय प्रबंधन (Time management)

जितने भी कामयाब व्यक्ति (Successful people) आपने अपनी लाइफ में देखे होंगे, उनमें एक चीज सबमें कॉमन रही है और वो है-टाइम मैनेजमेंट यानी समय प्रबंधन. बड़े-बड़े बिज़नेस मेन, कलाकार, महापुरुष आदि इन सभी ने अपने समय (Time) का पूर्णतः सदुपयोग किया अर्थात टाइम मैनेजमेंट किया.

सभी के पास दिन केके 24 घंटे ही उपलब्ध हैं, फिर भी कोई बेहद सफल (Success) है तो कोई असफल (Failure). इसका कारण बस इतना सा है कि जिस किसी ने इन 24 घंटों का बुद्धिमानी से प्रयोग कर लिया, वो जीवन में कामयाब हो गया और जिसने समय को व्यर्थ गंवा दिया, वो कहीं का नहीं रहता. अगर आपने टाइम को पास कर दिया तो एक दिन टाइम आपको जरूर फेल करेगा. इसलिए आप अपना टाइम मैनेजमेंट करें और आप भी औरों की तरह अपने जीवन में कामयाब हो जायें (Be successful in life).

तो दोस्तों ! ये थी आज की पोस्ट-जीवन में सफलता के लिए क्या जरूरी हैSecret of success in life. आज की ये पोस्ट आपको कैसी लगी, हमें अपनी राय या Suggestion जरुर बताइयेगा. और भी ऐसी Best Helpful Tips पाने के लिए आप हमें Subscribe जरुर कीजिये.

अगर आपको वीडियो देखना पसंद है तो हमारे YouTube channel पर visit कीजिये, जिसका नाम है-My Hindi Jagat.

About the Author

helpfulguruji
Helpfulguruji.com par har problem ka solution milega aur best Motivational tips, Study tips, Relationship tips ke alawa aur bhi daily life se related bahut hi useful information milegi.

Be the first to comment on "Secret of success in life-सफलता के लिए क्या जरूरी है"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*